Tuesday, 1 August 2017

बालो का झड़ना केसे रोके जाने हिंदी में # kaise Roke balo ko jhadne se hair fall upay #How to stop hair fall




कैसे रोकें बालों का झड़ना (kaise kare, baal jhadna, hair fall, upay)

कोशिश करने वाले की कभी हार नहीं होती

पुरुष और कभी-कभी महिलायें भी, नोटिस करते हैं कि कई विभिन्न कारणों से उनके बाल समय से पहले ही पतले हो रहे हैं। उम्र के साथ, मीनोपॉज, प्रेगनेंसी, जेनेटिक्स, बीमारी और अन्य कई कारण बाल झड़ने में अहम भूमिका अदा करते हैं। निश्चय ही आप रोगेन (Rogaine) जैसी दवा (जो कि बालों को झड़ने से रोकने के लिए दी जाती है) का प्रयोग कर सकते हैं, या हेयर ट्रांसप्लांट या फ्यूज़न करवा सकते हैं, परन्तु कभी-कभी सिर्फ नेचुरल तरीके (baal jhadne se rokne ke natural tarike) ही जो कि न केवल आसान होते हैं बल्कि सस्ते भी होते हैं, आपको इस समस्या से छुटकारा दिला सकते हैं। ऐसे बहुत से नेचुरल तरीके हैं जिनसे, बिना केमिकल्स के प्रयोग के, बालों को तेजी से बढ़ाया जा सकता है और साथ ही चमकीला और चमचमाता हुआ बनाया जा सकता है। आइये पढ़ते हैं इस (kaise baalon ka jhadna roke) लेख में।

3की विधि 1:
घरेलू उपचार (Gharelu Nuskhe)



1

हॉट आयल ट्रीटमेंट के द्वारा नमी को वापस लायें: इसके लिये आप किसी भी नेचुरल ऑइल जैसे, कुसुम (safflower) और राई (canola) या जैतून (olive) के तेल का प्रयोग कर सकते हैं। इस विधि का प्रयोग विवेकपूर्ण ढंग से करें क्योंकि जल्दी-जल्दी प्रयोग करने से तेल की गर्मी से आपके बाल समय से पहले ही सफ़ेद होने शुरू हो जायेंगे।तेल को गुनगुना गरम कर लें; ज्यादा गरम न होने दें। आदर्श तापमान 40°C (104°F) से ज्यादा नहीं होना चाहिए। इसके बाद इस तेल से स्कैल्प पर मसाज करें।अब एक घंटे के लिये शॉवर कैप पहन लें। उसके बाद धोकर या शेम्पू की सहायता से, तेल को बालों से निकाल दें।मॉयोनीज़ (Mayonnaise) भी एक कंडीशनर जैसा ही अच्छा कार्य करता है। बालों में इसको अच्छे से लगाएं, एक घंटे तक शावर कैप पहनें और उसके बाद धोकर साफ़ कर लें।



2

स्कैल्प पर लहसुन, प्याज या अदरक का रस आजमायें: ये सुनिश्चित करें कि इनको आपस में ना मिलाएं बल्कि किसी एक ही का प्रयोग करें। रातभर रस को स्कैल्प पर लगा रहने दें और सुबह उसे धो डालें।



3

अपने बालों में मेहँदी लगायें: मेहँदी हेयर क्यूटिकिल्स को सील कर देती है जिससे बालों की जड़ों को मजबूती मिलती हैं। बेहतर परिणाम के लिए आप इसमें दही एवं अंडे को भी मिक्स कर सकती हैं



4

अपने बालों में ग्रीन टी (green tea) का प्रयोग करें: चाय में एंटी-ओक्सिडेन्ट्स होते हैं जो बालों का झड़ना रोक सकते हैं और उनके बढ़ने में भी सहायक हो सकते हैं।एक कप पानी में दो ग्रीन टी बैग मिलाकर चाय तैयार करें। चाय को थोड़ा ठंडा होने दें और उसके बाद उसे बालों में लगाएं।इसे एक घंटे तक लगा रहने दें। उसके बाद बालों को अच्छे से धो लें।



5

आलू और मेंहदी को पानी में उबाल कर प्रयोग करें: उसमे से पानी को छान कर रख लें और रोज उससे बालों को धोएं।



6

मेथी के दानों का प्रयोग करें: इसके नियमित प्रयोग से बाल मजबूत, चमकीले और सही-सलामत बने रहेंगे।मेथी के बीज को पर्याप्त पानी में भिगोयें और फिर पीसकर उसका पेस्ट बना लें।इसे स्कैल्प पर लगाकर हलके से मसाज करें।अब उसे आधे घंटे के लिये वैसे ही छोड़ दें।इसके बाद उसे ठन्डे पानी से धो डालें।



7

सुगन्धित तेल (एसेंशियल आयल) के साथ स्कैल्प पर मसाज करें: मसाज ब्लड सर्कुलेशन को बढाता है जो हेयर फोलिकिल्स को एक्टिव बनाए रखता है। रोजाना 2 मिनट तक हाथों से अपने स्कैल्प पर मसाज करें। मसाज की प्रभाविता बढ़ाने के लिये अपने स्कैल्प पर लैवेंडर की कुछ बूँदें या बादाम मिला हुआ बे-एसेंशियल-आयल या तिल के तेल का बेस लगाएं।



8

अंडे के तेल ((eyova) प्रयोग करें: अपने स्कैल्प पर अंडे के तेल से मसाज करके रातभर के लिये छोड़ दें।सुबह नहाते समय कोई हल्का शेम्पू (हर्बल शेम्पू बेहतर होगा) लगायें ताकि अंडे का तेल निकल जाए। शेम्पू का प्रयोग केवल एक ही बार करें क्योंकि दुहराने से बालों में से नेचुरल लिपिड्स निकल जाते हैं जिससे बाल सूखे और कमजोर हो जाते हैं।कम से कम 12 सप्ताह तक हर हफ्ते 2 से 3 बार अंडे के तेल का प्रयोग करें जिससे परिणाम दिखाई पड़ने लगेंगे। सेल मेम्ब्रेन्स के उचित पोषण के लिये नियमित और लगातार प्रयोग महत्वपूर्ण है।बालों को झड़ने और सफ़ेद होने से बचाने के लिये अंडे के तेल का लम्बे समय तक उपयोग जारी रखें। बीच में छोड़ देने से बालों का झड़ना और सफ़ेद होना वापस शुरू हो सकता हैं।अंडे का तेल (eyova) उपयोग में आसान और टिकाऊ होता है। यह, अंडे की जर्दी का प्रयोग करने की तुलना में न केवल ज्यादा सुविधाजनक होता है बल्कि गरम शावर में नहाते समय बालों में से आने वाली कच्चे अंडे की दुर्गन्ध से भी मुक्ति दिलाता है। इसमें साल्मोनेला (salmonella), जो स्कैल्प में इन्फेक्शन दे सकता है, का भी कोई जोख़िम नहीं होता है ।अंडे का तेल आप घर में तैयार कर सकते हैं या ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं। [[१]]

Advertisement

3की विधि 2:
जीवन शैली में परिवर्तन



1

अपने आहार में अधिक प्रोटीनयुक्त भोजन शामिल करें: कम चर्बी वाला मांस, मछली, सोया एवं अन्य प्रोटीन खाने से बालों को झड़ने से रोकने में मदद मिलती है। बहुत से खाद्य पदार्थ जिनमे प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है उनमे विटामिन B-12 भी पाया जाता है।



2


अपने बालों का ध्यान रखें: गीले बालों में कभी कंघी न करें और न ही तौलिये से रगड़ कर उन्हें सुखाएं। इसके बजाय उन्हें हवा में सूखने दें या ब्लोअर द्वारा उन्हें इतना सुखाएं कि उनमे थोड़ी नमी बची रहे और उसके बाद उन्हें हवा में सूखने दें।



3

तनाव कम करें: कभी-कभी बाल झड़ने का मुख्य कारण तनाव ही होता है।मेडिटेशन करें। मेडिटेशन, तनाव कम करने और आपके हार्मोनल बैलेंस को वापस लाने, दोनों में ही सहायता प्रदान कर सकता है। मेडिटेशन, आपके जीवन के अन्य पहलुओं में भी, सहायता कर सकता है।थोड़ा-बहुत व्यायाम करें। प्रतिदिन 30-60 मिनट तक टहलें, तैरें या साइकिल चलायें। कोई खेल जैसे कि टेनिस खेल सकते हैं ताकि आप अपने अन्दर की भड़ास को गेंद को मार-मार कर निकाल सकें। व्यायाम, आपके तनाव के स्तर को, नीचे लाने में मदद करता है।

4

किसी से बात करें या कुछ लिखें: अपने जीवनसाथी, किसी मित्र या फैमिली डॉक्टर या किसी थिरेपिस्ट से, जो भी आप अनुभव कर रहे हैं, उसके बारे में बात करें। किसी जर्नल में अपनी भावनाओं को रिकॉर्ड करने के लिये समय निकालें।



5

विग या नकली बालों से परहेज करें: देखने में तो ये अच्छे कॉस्मेटिक उपाय प्रतीत होते हैं लेकिन ये आपके हेयर फोलिकिल्स को नुक्सान पहुंचा कर आपके बालों के झड़ने को और तेज कर सकते हैं।

Advertisement

3की विधि 3:
हर्ब्स और सप्लीमेंट्स



1

विटामिन्स लें: आपने अपनी माँ से सुना होगा कि विटामिन्स आपके लिये अच्छे होते हैं लेकिन आप शायद ही जानते हों कि ये आपके बालों के लिये भी अच्छे होते हैं। अपनी दिनचर्या में इनका भी कुछ मिलीग्राम शामिल कर लें।विटामिन A: विटामिन ए एक एंटी-ऑक्सीडेंट है जो स्कैल्प (scalp) में स्वस्थ सीबम (sebum) का निर्माण करता है। शकरकंद में कूट-कूट कर भरे बीटा-कैरोटीन मे भरपूर विटामिन ए होता हैं जो ना केवल स्कैल्प को स्वस्थ बनाता है बल्कि बालों की बृद्धि में भी सहायता करता है।ओमेगा-3: ओमेगा-3 नामक फैटी एसिड लें। मांसल मछलियाँ, अंडे की जर्दी, मछलियों के अंडे (caviar) और दूध ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिनमे ओमेगा-3 भरपूर होता है।विटामिन E: यह स्कैल्प में भी ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है जो हेयर फोलिकिल्स को उत्पादक बनाए रखने के लिये महत्वपूर्ण होता है।विटामिन B: यह आपके शरीर को मेलेनिन (melanin), जो बालों को उनका स्वस्थ रंग प्रदान करता है, के उत्पादन में सहायता करता है। मेलेनिन भी ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है।



2

सॉ पॉलमेटो (saw palmetto) प्रयोग करें: पिछले कुछ समय से सॉ पॉलमेटो, बाल और त्वचा को स्वस्थ और बेहतर बनाने में काफी उपयोग किया जा रहा है। यह शरीर में DHT (टेस्टेस्टेरान का अवयव) के बनने पर रोक लगाता है जो कि बाल झड़ने और पुरुषों में प्रोस्टेट एन्लार्जमेंट का कारण माना जाता है। हालाँकि, इसका बालों को झड़ने से रोकने में कोई प्रभावी रोल है, इसका कोई क्लीनिकल प्रमाण नहीं है।


बेर की पत्तियों व नीम की पत्तियों को बारीक पीसकर उसमें नींबू का रस मिलाकर बालों में लगा लें व दो घंटे बाद बालों को धो लें। इसका एक माह तक प्रयोग करने से नए बाल उग आते हैं व बाल झड़ना बंद हो जाते हैं।

बड़ के दूध में एक नींबू का रस मिलाकर सिर में आधे घंटे तक लगा रहने दें। फिर सिर को गुनगुने पानी से धो लें। इससे बालों का झड़ना बंद हो जाता है व बाल तेजी से बढ़ते हैं।

गुड़हल की पत्तियां प्राकृतिक हेयर कंडीशनर का काम देती हैं और इससे बालों की मोटाई बढ़ती है। बाल समय से पहले सफेद नहीं होते। इससे बालों का झड़ना भी बंद होता है। सिर की त्वचा की अनेक कमियां इससे दूर होती है।

दो चम्मच ग्लीसरीन, 100 ग्राम दही, दो चम्मच सिरका, दो चम्मच नारियल का तेल मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को आधा घंटे तक बालों में लगाएं फि‍र पानी से बालों को साफ करें। बालों में कुछ देर के लिए खट्टी दही लगाएं फिर गुनगुने पानी से बाल धो डालें। बाल एकदम मुलायम हो जाएंगे।
बेर की पत्तियों व नीम की पत्तियों को बारीक पीसकर उसमें नींबू का रस मिलाकर बालों में लगा लें व दो घंटे बाद बालों को धो लें। इसका एक माह तक प्रयोग करने से नए बाल उग आते हैं व बाल झड़ना बंद हो जाते हैं। 

बड़ के दूध में एक नींबू का रस मिलाकर सिर में आधे घंटे तक लगा रहने दें। फिर सिर को गुनगुने पानी से धो लें। इससे बालों का झड़ना बंद हो जाता है व बाल तेजी से बढ़ते हैं। 

गुड़हल की पत्तियां प्राकृतिक हेयर कंडीशनर का काम देती हैं और इससे बालों की मोटाई बढ़ती है। बाल समय से पहले सफेद नहीं होते। इससे बालों का झड़ना भी बंद होता है। सिर की त्वचा की अनेक कमियां इससे दूर होती है। 

दो चम्मच ग्लीसरीन, 100 ग्राम दही, दो चम्मच सिरका, दो चम्मच नारियल का तेल मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को आधा घंटे तक बालों में लगाएं फि‍र पानी से बालों को साफ करें। बालों में कुछ देर के लिए खट्टी दही लगाएं फिर गुनगुने पानी से बाल धो डालें। बाल एकदम मुलायम हो जाएंगे।
दोस्तो post अच्छी लगे तो share जरूर करे
Oyepagal.com
My YouTube cheneal
Gurubaba parmar 

No comments:

Post a Comment

Hindikajokes

पेट की गैस का घरेलू उपचार – गैस की समस्या से छुटकारा पाए

पेट की गैस का घरेलू उपचार – गैस की समस्या से छुटकारा गैस क्या है? अत्यधिक गैस, गैस की समस्या पैदा कर देती है और इसे कई तरह से वर्ण...